चांद की ओर बढ़ रहे चंद्रयान-2 ने शुरू किया अपना काम, भेजी पृथ्वी की पहली तस्वीर

चंद्रयान-2 की 22 जुलाई लाॅन्चिंग के साथ ही भारत ने इतिहास रच दिया था । यह मिशन लगातार अपने लक्ष्य की ओर अग्रसर हैं । इसी बीच चंद्रयान में लगे स्पेशल कैमरे से पृथ्वी की कुछ खूबसूरत तस्वीरें भेजी गई हैं । यहां देखें इन तस्वीरें तीन अगस्त को ली गई हैं । यह तस्वीर भी LI4 कैमरे से 3 अगस्त को ली गई हैं ।

 भारत दुनिया का पहला देश होगा जो कि चांद के दक्षिणी सतह पर उतरेगा । चंद्रयान-2 की सफल लाॅन्चिंग के बाद इसरो प्रमुख के सिवन ने कहा था कि यह भारत की ऐतिहासिक यात्रा की शुरूआत हैं । वहीं इसरो ने कहा कि ऑर्बिटर, लैंडर और रोवर के साथ गया चंद्रयान-2 चांद के दक्षिणी ध्रुव क्षेत्र पर उतरने से पहले 15 महत्वपूर्ण अभियान चरणों से गुजरेगा ।

बता दें कि इसरो ने 2 अगस्त को भारत के मून स्पेसक्राप्ट चंद्रयान-2 की ऑर्बिट को चौथी बार सफलतापूर्वक बढाया था । भारतीय स्पेस एजेंसी ने इसकी जानकारी देते हुए कहा था कि चंद्रयान-2 की कक्षा को 646 सेकेंड के लिए ऑनबोर्ड मोटरों को चालू करके 277 गुणा 89,472 किलोमिटर तक बढा दिया गया । इसके ऑर्बिट को 6 अगस्त को दोपहर 2.30 से 3.30 के बीच पांचवी बार बढाया जाएगा ।

इसरो के मुताबिक चांद के गुरूत्व क्षेत्र में प्रवेश करने पर चंद्रयान-2 के प्रोपेलिंग सिस्टम का इस्तेमाल इसकी रप्तार धीमी करने के लिए किया जाएगा ताकि यह चांद की प्रारंभिक कक्षा में प्रवेश कर सके ।

पृथ्वी के प्रभाव वाले क्षेत्र से चांद के आभामंडल में यह 14 अगस्त को प्रवेश करेगा इसके साथ ही चंद्रयान-2 चांद की परिक्रमा करने लगेगा । 13 दिन के बाद रोवर प्रज्ञान को लेकर जा रहा लैंडर विक्रम यान से अलग हो जाएगा और कुछ दिन कक्षा की परिक्रमा के बाद यह 7 सितंबर को चांद के दक्षिणी ध्रुव पर उतरेगा ।

This Is Rising!